भारत ब्रिटेन के मध्य 9 समझौतों पर हस्ताक्षर

भारत और ब्रिटेन ने 18 अप्रैल 2018 को नौ समझौतों पर हस्ताक्षर किये. इनमें तकनीक, व्यापार एवं निवेश जैसे विषय शामिल हैं. यह समझौते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ब्रिटेन यात्रा के दौरान किये गये.

इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी लंदन में 19-20 अप्रैल 2018 को आयोजित होने वाली कॉमनवेल्थ हेड्स ऑफ़ गवर्नमेंट मीटिंग में भी भाग लेंगे.

दोनों देशों ने साइबर संबंधों के साथ ही स्वतंत्र, मुक्त, शांतिपूर्ण और सुरक्षित साइबर स्पेस के संबंध में समझौते के अलावा, साइबर सुरक्षा प्रबंधन पर भी समझौते दोनों देशों ने किये. सूचनाओं के आदान-प्रदान में सहयोग पर समझौता भी हुआ.

भारत-ब्रिटेन के मध्य साइबर संबंधों हेतु फ्रेमवर्क समझौता
• भारत और ब्रिटेन ने दोनों देशों के बीच साइबर संबंधों के लिए एक समझौता किया ताकि दोनों देशों के मध्य मुक्त, शांतिपूर्ण एवं सुरक्षित साइबरस्पेस विकसित किया जा सके.
• इस समझौते के तहत दोनों देशों ने साइबर सुरक्षा से जुड़ी जानकारियों को साझा करने तथा सुरक्षा के लिहाज से प्रबंधन हेतु हस्ताक्षर भी किये.

अंतरराष्ट्रीय अपराध के संबंध में जानकारी साझा करने हेतु एमओयू
• दोनों देशों ने अंतरराष्ट्रीय अपराध की स्थिति में जानकारियों का आदान-प्रदान करने तथा संगठित अपराध की दृष्टि में जानकारी साझा करने हेतु समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये.
• आपराधिक रिकॉर्ड, आप्रवासन रिकॉर्ड और ज्ञान के आदान प्रदान के लिए एक तंत्र स्थापित करने के लिए एमओयू पर हस्ताक्षर किये गये.

गंगा पुनरुद्धार के लिए एमओयू
• राष्ट्रीय गंगा स्वच्छता मिशन (एनएमसीजी) एवं राष्ट्रीय पर्यावरण अनुसंधान परिषद् (एनईआरसी), यूके ने गंगा स्वच्छता हेतु एक एमओयू पर हस्ताक्षर किये.
• इस समझौते के तहत ब्रिटेन भारत सरकार को गंगा की सफाई एवं प्रबंधन में सहायता प्रदान करेगा. इसके तहत दोनों देश मिलकर एक फ्रेमवर्क तैयार करेंगे जिससे गंगा स्वच्छता मिशन को मूर्त रूप प्रदान किया जायेगा.

सतत शहरी विकास हेतु समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर
• भारत और ब्रिटेन ने सतत शहरी विकास के क्षेत्र में संस्थागत सहयोग हेतु एक एमओयू पर हस्ताक्षर किया.
• इस समझौते के तहत प्रोग्राम एवं प्रोजेक्ट डिजाईन, वित्तीय सहायता तक पहुंच, ज्ञान का आदान-प्रदान एवं अनुसंधान आदि शामिल हैं.
• इस समझौते से स्मार्ट सिटी मिशन में भी सहायता प्राप्त होगी.

कौशल विकास पर एमओयू
दोनों देशों ने कौशल विकास, वोकेशनल एजुकेशन एवं प्रोग्राम को बढ़ावा देने के लिए सहमति जताई तथा एमओयू पर हस्ताक्षर किये.

सुरक्षित परमाणु उर्जा के उपयोग पर समझौता
एटॉमिक एनर्जी रेगुलेटरी बोर्ड ऑफ़ इंडिया (एईआरबी) तथा ऑफिस फॉर न्यूक्लियर रेगुलेशन ऑफ़ ग्रेट ब्रिटेन (ओएनआर) के मध्य परमाणु उर्जा के सुरक्षित एवं सुनियोजित उपयोग किये जाने हेतु एक समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया गया.

अन्य समझौते
• भारत उअर ब्रिटेन ने पशुधन, मछली पालन एवं कृषि के क्षेत्र में एमओयू पर हस्ताक्षर किये.
• दोनों देशों में अनुसंधान एवं नवोन्मेष को बढ़ावा देने हेतु समझौता पत्र जारी किया गया.
• ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ़ आयुर्वेद (भारत) तथा कॉलेज ऑफ़ मेडिसिन (ब्रिटेन) के मध्य भी एक गैर-सरकारी समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये गये.

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *